मैं नदियों मे नाव चलाता

मैं नदियों मे नाव चलाता,


...........................................


मैं नदियों मे नाव चलाता,


खुद खातिर फुटपाथ बनाता,


और मुस्काता गीत सुनाता,


 


लहरों की हर एक हिलोरों, 


से मिलकर मैं ताल बनाता,


जीवन की इस ध्रुवित दिशा में,


सूरज से मैं बैर निभाता,


चीर के सीना दरिया का,


मैं नदियों की सदियाँ दुहराता,


 


मैं ही हूँ जो डाल- डाल पर,


चिड़ियों के घोषले बचाता,


अचल तेज की गरिमा लेकर,


बचपन की यादें मगवाता,


दिल करता है बचपन मे,


जो स्वार्थहीन बचकानी बाते,


लगा के बोली खरीद लाता।


 


बरस बरस कर झर बैठी जो,


छप्पर को कान्धा लगवाता,


 


देश प्रेम की वेदी पर जो,


लगा दिए नि:स्वार्थ प्राण,


मैं उनके बच्चों की खातिर,


एक गाँव नया सा बनवाता ।


 


जो आँखें आज थकी हारी हैं,


उनके ज़ख्मों को सहलाता,


अब खत्म हो रही मानवता का,


पाठ नया मैं सिखलाता।


 


जल पड़े हंदय के छालों पर,


अमृत बोली मैं बरसाता,


मैं खड़ा हुआ हूँ मानवता के,


सबसे ऊँची चोटी पर


पर आज निगाहें धुधलीं सी बन,


नज़र नहीं कुछ भी आता,


इस दमन काल की बेला में, 


मैं फिर भी हिम्मत बँधवाता,


बूढ़ी होती हड्डियों में फिर


मैं बचपन के हूँ अलख जगाता,


जो भीग- भीग के भसक चुकी,


दीवार में गारे लगवाता,


दूर हवाओं के झोकों संग,


नई परम्परा ले आता,


मैं गुज़र चुके उन पथिकों से,


हूँ बार-बार बस नज़र चुराता,


जिसके खातिर तृण सूखे थे,


कि फसल नई जो पनपेगी,


उससे भूखों को अन्न मिले,


आराम मिले हर जन-जन को,


मैं आज यहाँ पर ही फिर से,


उस नई फसल को लगवाता,


मैं रंग-बिरंगे चित्रों की,


क्यारियाँ सजाता बनवाता,


मैं फटे पुराने कैलेन्डर में,


दु:ख के दिवस को चढ़वाता,


मैं तोड़ बन्धनों को धरती पर,


नये राह की खोज कराता,


मैं समय की जीवन धारा मे,


सच करता हूँ और करवाता।


जुगेश कुमार गुप्ता,


Popular posts
23 मार्च को कई राज्यों और शहरों में लॉकडाउन घोषित किया गया था। बावजूद इसके अधिकतर जगहों पर लोग बेपरवाह दिखे। वाहनों की आवाजाही सामान्य दिखी और लोग बेरोकटोक आते-जाते रहे। लॉकडाउन का कहीं कोई असर नहीं दिखा। इसे देखते हुए पीएम मोदी को भी अपील करनी पड़ी की कई लोग इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं और राज्य सरकारों को कानून का सख्ती से पालन करवाना चाहिए।
लॉक डाउन का उल्लंघन करने वाले चार अभियुक्तों को थाना जारचा पुलिस ने किया गिरफ्तार
<no title>बीच-बचाव करने लगे।झगड़े में बहादुर अली,उसकी पत्नी जो वर्तमान प्रधान है और उसका एक लड़का घायल हो गये।जिनका मेडिकल उपचार कराया गया व झगड़े करने वाले चार लोगों की गिरफ्तारी हुई है सभी के विरुद्ध लॉक डाउन के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज किया गया है।अभियुक्तों की पहचान फिरोज अली पुत्र आरिफ अली,शेर अली पुत्र आरिफ अली,अमन अली पुत्र फिरोज अली और आतिफ अली पुत्र फिरोज अली निवासी गढ़ ग्राम छोलस थाना जारचा के रुप में हुयी।जिनके खिलाफ पुलिस ने धारा 188 /270/ 271 IPC के तहत मुकदमा दर्ज किया है।
अपराध पर निरंतर अंकुश लगाने वाली पुलिस को उस वक्त एक नई सफलता मिली जब जारचा पुलिस ने लॉक डाउन का उल्लंघन करने वाले चार अभियुक्तों को गिरफ्तार किया।आपको बता दे कि पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के निर्देश पर लॉक डाउन का उल्लंघन करने वालों लोगों के खिलाफ सख्त कारवाई हो रही है।इसी क्रम में थाना जारचा पुलिस ने दिनांक 10 अप्रैल 2020 को ग्राम छोलस प्रधान पति बहादुर अली द्वारा पुलिस को सूचना दी कि गांव में कुछ बच्चे क्रिकेट खेल रहे है।पुलिस मौके पर पहुंची तो क्रिकेट खेल रहे बच्चे पुलिस को देख कर भाग गए।बहादुर अली के दो भाई के लड़के भी क्रिकेट खेल रहे थे।पुलिस से शिकायत करने से नाराज प्रधान पति बहादुर अली के दोनों भाई उससे झगड़ा करने लगे।झगड़ा करते हुए ये लोग घर के बाहर आ गए।उनको झगड़ा करते देख गांव के 20-25 लोग इक्कठे हो कर तमाशा देखने लगे।उसके बाद झगड़े को शांत करने के लिए
रे विश्व में कोरोना जैसी महामारी से बचाव हेतु लायंस क्लब प्रतापगढ़ अवध द्वारा मीडिया कर्मियों को अच्छी क्वालिटी का मास्क वितरण किया गया लायंस क्लब के अध्यक्ष संतोष कुमार पांडे ने आज दैनिक लोकमित्र कार्यालय में पहुंचकर सम्पादक संतोष भगवन को लोकमित्र से जुड़े मीडिया कर्मियों को मास्क उपलब्ध कराया। इस अवसर पर सम्पादक संतोष भगवन, विश्वनाथ त्रिपाठी विजय कुमार पांडे उमेश कुमार श्रीवास्तव धीरज कुमार पांडे नसीम अहमद आज पत्रकार साथियों की उपस्थिति रही। इसी तरह लायंस क्लब अवध प्रतापगढ़ इस लॉक डाउन के समय में मास्क , सैनिटाइजर, भोजन आदि वस्तुओं को समस्या पर उपलब्ध करा रहा है।